Hindi Kavita Love Poem

प्यार पर हिंदी कविता – Poem On Love in Hindi – सच्चे प्यार पर कविता

Poem On Love in Hindi – प्यार जिसको हम अपना जीवन कह सकते है यह व्यक्ति के जीवन का हिस्सा होता है और कोई भी कितना भी चाहे की मै प्यार नही करूँगा लेकिन यह एक ऐसी बीमारी जो हर किसी को किसी ना किसी से हो ही जाता है, क्या आपको भी किसी से प्रेम हो गया है और आप Love Poem in Hindi देख रहे है तो आप सही जगह है यहाँ से आप सच्चे प्यार पर कविता, True Love Poem in Hindi, सच्चा प्रेम कविता, रोमांटिक प्रेम कविता आदि का विशाल संग्रह पेश करेंगे जिनको आप व्हाट्सप्प फेसबुक इंस्टाग्राम आदि के जरिये शेयर करके अपने प्रेमी/प्रेमिका के जहन में अपना प्रेम और भी बढ़ा सकते है |

प्यार-पर-हिंदी-कविता-poem-on-love-in-hindi

Poem On Love in Hindi

कोई दिवाना कहता हैं, कोई पागल समझाता हैं,
मगर धरती की बैचेनी को, बस बादल समझता हैं,
मैं तुझसे दूर कैसा हु, तू मुझसे दूर कैसी हैं,
ये तेरा दिल समझता हैं, या मेरा दिल समझता है।मुहब्बत एक एहसासों की, पावन सी कहानी है,
कभी कबीरा दिवाना था, कभी मीरा दिवानी हैं,
यहाँ सब लोग कहतें हैं, मेरी आँखों में आंसू हैं,
जो तू समझें तो मोती हैं, ना समझें तो पानी हैं।

समंदर पीर का अंदर हैं, लेकिन रो नहीं सकता,
ये आंसू प्यार का मोती हैं, इसको खो नहीं सकता,
मेरी चाहत को अपना तू बना लेना, मगर सुन ले,
जो मेरा हो नहीं पाया, वो तेरा हो नहीं सकता।

की ब्रह्मर कोई कुमुदनी पर, मचल बैठा तो हंगामा,
हमारे दिल में कोई ख़्वाब पर बैठा तो हंगामा,
अभी तक डूब कर सुनते थे सब किस्से मौहब्बत के,
मैं किस्से को हक़ीकत मैं बादल बैठा तो हंगामा !

You Also Like : 

Best Love Poem in Hindi

मुझे अपने हर दर्द का हमदर्द बना लो,
दिल में नहीं तो ख्यालों में बैठा लो,
सपनों में नहीं तो आंखों में सजा लो,
अपना एक सच्चा अहसास बना लो।।मुझे कुछ इस तरह से अपना लो,
कि अपने दिल की धड़कन बना लो,
मुझे छुपा लो सारी दुनिया ऐसे,
कि अपना एक गहरा राज बना लो

करो मुझसे मोहब्बत इतनी,
अपनी हर एक चाहत का अंजाम बना लो,
ढक लो मुझे अपनी जुल्फों इस तरह,
कि मुझे अपना संसार बना लो ।।

आप फूल बन जाओ मुझे भंवरा बना लो,
आप चांदनी बन जाओ मुझे चाँद बना लो,
रख दो अपना हाथ मेरे हाथों में इस तरह,
कि मुझे अपने जीवन का हमसफर बना लो ।

रोमांटिक प्रेम कविता

एक प्यार का पन्ना लिखने बैठे थे आपके लिये।
लिख दी एक पूरी क़िताब ,क्योकि
आप वो पन्ना हैं जिसने हमें ज़िन्दगी की राह पर हर क़दम पर साथ दिया है।
आप वो पन्ना है।
जिसको एक बार कोई इंसान देख ले तो जैसे नशे में नाच उठता है।
आप वो पन्ना है।
जो हमारे हर सास में जैसे बस्ती हैं।
आप वो पन्ना है।
जो कोयल जैसे सबको अपनी आवाज़ से जगलेते हैं।
आप वो पन्ना है।
जो प्यार से नहीं महोब्बत से लिखा है।
आप वो पन्ना है।
जो जैसे शाह जहा और मुमताज़ की अमर दस्ता की हकदार है।
और आप वो पन्ना है।
जिसके दिल से हमारा दिल जुड़ा है !

प्यार पर कविता संग्रह

तू इजाजत दे या न दे,
तेरी इबादत करता रहूंगा,
तू प्यार करे या ना करे,
मैं इजहार हर लम्हा करता रहूंगा।तू मिले या ना मिले कोई शिकवा नहीं,
बस तेरी यादों में तुझसे मिलता रहूँगा,
दिल में ना बस सका मै तेरे,
पर तेरे ख्यालों में जरूर आऊंगा।

तू इजाजत दे या न दे,
तेरी यादों को ही सहारा बनाऊंगा,
तू परवाह करें या ना करें,
पर मैं आखरी सांस तक परवाह करता रहूंगा।

तू जिस्म की चाहत नहीं,
मेरी रूह की इबादत है,
जितने फासले है तेरे मेरे दरमियां,
उतनी ही शिद्दत से मोहब्बत करता रहूंगा।

तू इजाजत दे या न दे,
तेरी इबादत करता रहूंगा।

Love Poem in Hindi For Girlfriend

मुझें अपनी जान बना लो
अपना अहसास बना लो
सीने से लगा लो आज
मुझे अपनी रात बना लो आज
मुझे अपना अल्फाज़ बना लो
अपने दिल की आवाज़ बना लो
बसा लो अपनी आँखों में
मुझे अपना ख़्वाब बना लो
मुझे छुपा लो सारी दुनिया से
अपने एक गहरा राज बना लो
आज बन जाओ मेरी मोहब्बत
ओर मुझे अपना प्यार बना लो !

Love Poem in Hindi For Boyfriend

कहना तो बहुत कुछ है तुझसे,
कहना तो बहुत कुछ है तुझसे,
मगर कह कहाँ पाता हूँ,
सच है कि जीना है अब तेरे बग़ैर,
मगर एक पल भी रह नहीं पाता हूँ ।।।
कहना तो बहुतएक कोशिश रोज़ होती है तुझे भुलाने की,
मगर एक पल भी भुला कहाँ पाता हूँ,
देखता तो हूँ ख़्वाब हर रात,
मगर ख़ुद को सुला नहीं पाता हूँ ।।।
कहना तो बहुत

लिये फिरता हूँ एक समन्दर इन आँखों में,
मगर रो लूँ जी भर ऐसा कहाँ कर पाता हूँ,
जीना ही मुमकिन कहाँ था तेरे बग़ैर,
मगर मज़बूर हूँ, मर भी नहीं पाता हूँ ।।।
कहना तो बहुत

तू अगर देख पाती तो समझ जाती,
कि इस बेबसी को छुपा कहाँ पाता हूँ,
छलक जाता है दर्द कभी अल्फाज़ों से भी,
मगर मैं ख़ामोश भी रह नहीं पाता हूँ ।।।
कहना तो बहुत

Short Poem On Love in Hindi

उम्मीद करते है की आपको हमारे द्वारा ऊपर दी गई Best Love Poem in Hindi बेहद पसंद आई होंगी, लेकिन अगर अगर आप उनसे भी बेहतरीन लव पोएम देख रहे है तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है नीचे हम आपको प्यार पर कविता, सच्चे प्यार पर कविता, Poem On True Love in Hindi, अहसास पर कविता, प्रेमिका पर कविता, अधूरे प्यार की कविता, Love Poem in Hindi With Images, प्रेम और जिन्दगी पर बेहतरीन कविता, Love & Life Poem in Hindi, प्रेम पर छोटी कविता आदि का संग्रह पेश कर रहे है जिसके साथ साथ आपको यहाँ से New Love Poem in Hindi, बेहतरीन प्रेम कविता संग्रह, प्यार में धोखा कविता, पहला प्यार कविता, First Love Poem in Hindi, प्रथम मिलन कविता आदि का विशाल संग्रह आप नीचे पा सकते है उम्मीद करते है यह तो आपको जरूर पसंद आएँगी |

प्यार-पर-हिंदी-कविता-poem-on-love-in-hindi

तुझे क्या पता,
तेरे इन्तजार में हमें
हर लम्हां कैसे गुजारा हैं,
एक दो बार नही
दिन में हजारों दफ़ा,
तेरी तस्वीर को निहारा हैं…!

Romantic Poem On Love in Hindi

महफ़िल भी सूनी लगती है
तेरा कसर लगता है,
ग़म भी खुशी लगती है
तेरा असर लगता है।है लगता हर पल सदियों -सा,
बरसों -सा बिन तेरे;
तेरा दिल ही मुझे
अब मेरा घर लगता है।

है चाहता ये दिल
हर पल तेरे दीदार को,
तड़पता हूँ, बेचैन रहता हूँ
मामुली सा पत्थर भी संगेमरमर लगता है।

अनजाना-सा दुनिया की बातों से
दिन-पल और रातों से,
ना किसी के कहने का असर
ना वाकिफ़ हालातों से।

हद पार कर जाऊँगा तेरे इश्क़ में
दोगे ज़हर इम्तेहान के लिए
तो भी पी जाऊँगा तुझे याद करके
मरूँगा नहीं, हो जाऊँगा अमर लगता हैं ।

Love Poem in Hindi Font

कुछ कह रहा था वो…….

ध्यान से सुना जब उसको, तो कुछ कह रहा था वो,
याद करके अपनी वफ़ा को, शायद रो रहा था वो,
लगा यूँ कि वो कहता रहा अपने दिल के हर ज़ज़्बात को,
मैं तो जागता रहा उसकी दास्तां में, पर सो रहा था वो
कुछ कह रहा था वो

उसने कहा हम बचपन से साथ थे, पर खो रहा था वो,
जो कुछ भी नहीं काट पाया था खुद, वही बो रहा था वो,
शायद अँधेरे ही हमारी किस्मत का उजाला थे हमेशा से,
जिन उजालों ने दी थी कालिख, उन्हीं उजालों को धो रहा था वो
कुछ कह रहा था वो

उसका कुछ कहना और फिर रुक जाना, डर रहा था वो,
जो किया था खाली उसने मेरे दिल से, वही भर रहा था वो,
देखना, चाहना, मिलना, निभाना, या खो देना ये सब तो था मगर,
कहने को ही वो ज़िन्दा था सिर्फ़, पर मर रहा था वो ।।
कुछ कह रहा था वो !

वैसे करता तो कुछ नहीं बस, यूँ ही लगा रहता था वो,
शायद एक दरवाजा था मोहब्बत का, खुला रहता था वो,
यूँ तो सब कुछ सूना – सूना ही होता था उसके बिन मग़र,
सामने हो निग़ाहों के वो हमेशा, फिर भरा रहता था वो
कुछ कह रहा था वो !

प्यार भरी रोमांटिक कविता

तेरे लिबास से मोहब्बत की हैं,
तेरे एहसास से मोहब्बत की हैं,
तू मेरे पास नही फिर भी,
मैंने तेरी याद से मोहब्बत की हैं,
कभी तू ने भी मुझे याद किया होगा,
मैंने उन लम्हों से मोहब्बत की हैं.
जिन में हो सिर्फ तेरी और मेरी बातें
मैंने उन अल्फ़ाज से मोहब्बत की हैं.
जो महकते हो तेरी मोहब्बत से,
मैंने उन जज्बात से मोहब्बत की हैं.
तुझ से मिलना तो अब एक ख्वाब लगता हैं,
इसलिए मैंने तेरे इन्तजार से मोहब्बत की हैं !

अधूरे प्यार की कविता

आज भी साथ तो नहीं है वो
पर रूह से कभी गया भी नहीं
हां भूली तो नहीं हूँ उसको
पर उसने याद कभी किया भी नहींहां मालूम है मुझे तुम्हें मुझसे प्यार हुआ नहीं था
पर जो मैंने किया वह झूठ नहीं था
हां तुमसे बहुत अलग हूँ मैं
इसलिए तुममें खुद को देखने का सपना सच नहीं हुआ

हां मुझे पता है जो कहा था तुमने आई लव यू
उसका कोई मतलब नहीं था
पर जो मैंने कहा वो शायद तुम समझ पाए ही नहीं

हां तुमने मुझे कभी महसूस नहीं होने दिया
कि तुम मुझसे प्यार नहीं करते
पर तुम हमेशा मेरे साथ रहोगे ऐसे तुम होने दिया नहीं

हां तुमने बड़ी आसानी से जाने को बोल दिया
क्योंकि मैं तुम्हारे जज्बातों में थी नहीं !

Heart Touching Poem On Love in Hindi

यूँ जिन्दगी के ख्वाब दिखा गया कोई,
मुस्कुराके अपना बना गया कोई,
बहतीं हुई हवाओं को यूँ थाम ले गया कोई,
सावन में आके कोयल का गीत सुना गया कोई,
यूं अपने प्यार की हवा से गम को मिटा गया कोई,
मीठे सपनों में आपके अपना बना गया कोई,
धूल लगी किताब के पन्नें पलट गया कोई
उस में सूखे हुए गुलाब की याद दिला गया कोई
यूँ जिन्दगी में फिर से प्यार की बरसात दे गया कोई
बिन आहट की इस दिल में जगह बना गया कोई
यूँ फिर से मुझे जीने का मकसद सिखा गया कोई
बिना आहत अपना बना गया कोई

उम्मीद करते है प्यार पर हिंदी कविताPoem On Love in Hindi सच्चे प्यार पर कविता आदि का संग्रह बेहद पसंद आया होगा, ऐसे ही कविता शायरी संग्रह आदि पाने के लिए हमारे इस ब्लॉग से जुड़े रहे |

Read More : 

Leave a Comment