Hindi Shayari Love Shayari

रूठे प्यार को मनाने वाली शायरी – Ruthe Pyar Ko Manane Ki Shayari in Hindi

Ruthe Pyar Ko Manane Ki Shayari : प्यार मोहब्बत जिसको हम अपना जीवन कह सकते है, अगर व्यक्ति के जीवन में प्यार ना हो तो उसका जीवन अधूरा हो जाता है | लेकिन देखा जाए तो आज की इस दुनिया में हर किसी को किसी ना किसी से प्यार हो जाता है चाहे वह आपका एक प्रिय मित्र ही क्यों ना हो | अक्सर देखा जाए तो दो प्रेमी/प्रेमिकाओं में लड़ाई झगडे होते ही रहते है लेकिन कभी कभी लड़ाई इतनी बढ़ जाता है की वह दोनों एक दुसरे से बिछड़ जाते है और उनके बीच नाराज़गी हो जाती है |

इसी को देखते हुए आज के इस लेख में हम आपको नाराजगी दूर करने वाली शायरी, प्यार को मनाने वाली शायरी, Girlfriend Ko Manane Ki Shayari in Hindi, रूठे प्यार को मनाने के उपाय आदि का विशाल संग्रह पेश कर रहे है | जिनके जरिये आप अपने Girlfriend/Boyfriend, Family Love आदि को बहुत ही आसानी से मना सकते है |

प्यार को मनाने वाली शायरी

दिल से तेरी याद को जुदा तो नहीं किया,
रखा जो तुझे याद कुछ बुरा तो नहीं किया,
हम से तू नाराज़ हैं किस लिये बता जरा,
हमने कभी तुझे खफा तो नहीं किया !
हम रूठे भी तो किसके भरोसे रूठें,
कौन है जो आयेगा हमें मनाने के लिए,
हो सकता है तरस आ भी जाये आपको,
पर दिल कहाँ से लायें आपसे रूठ जाने के लिये !
तुम हँसते हो मुझे हँसाने के लिए,
Tum रोते हो तो मुझे रुलाने के लिए,
तुम एक बार रूठ कर तो देखो,
मर जायेंगे तुम्हें मनाने के लिए !

यह भी पढ़े : 

रूठे हुए को मनाने वाली शायरी

रूठने-मनाने का,
सिलसिला कुछ यू हुआ मान गया था मगर,
फिर रूठने का दिल हुआ !
वक्त कम है साथ बिताने के लिए
इसको ना गंवाना रूठने मनाने के लिए मेरे मेहबूब
प्यार कर लिया हमने आपसे बस थोड़ा साथ देना इसको निभाने के लिए !
रूठने की कोई दास्ताँ रही होगी
यकीनन कोई खता रही होगी
तुमने सलाम नहीं लिया होगा उनका
यही तो बात दिल को सता रही होगी !

रूठे दोस्त को मनाने वाली शायरी

जंग न लग जाये दोस्ती को कहीं,
रूठने मनाने के सिलसिले जारी रखो !
खता हो गयी तो फिर सज़ा सुना दो,
दिल में इतना दर्द क्यूँ है वजह बता दो,
देर हो गयी याद करने में जरूर,
लेकिन तुमको भुला देंगे ये ख्याल मिटा दो।
उन्हें रूठने में वक़्त नहीं लगता
मेरे पास वक़्त नहीं मानाने को !
नाराज क्यूँ होते हो किस बात पे हो रूठे,
अच्छा चलो ये माना तुम सच्चे हम ही झूठे,
कब तक छुपाओगे तुम हमसे हो प्यार करते,
गुस्से का है बहाना दिल में हो हम पे मरते !

Ruthe Pyar Ko Manane Ki Shayari

हमसे कोई खता हो जाये तो माफ़ करना,
हम याद न कर पाएं तो माफ़ करना,
दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं,
पर ये दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना !

खता हो गयी तो फिर सज़ा सुना दो,
दिल में इतना दर्द क्यूँ है वजह बता दो,
देर हो गयी याद करने में जरूर,
लेकिन तुमको भुला देंगे ये ख्याल मिटा दो !
हर घड़ी का ये बिगड़ना नहीं अच्छा ऐ जान,
रूठने का भी कोई वक़्त मुक़र्रर हो जा !
बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से,
तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले,
कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से !

बीवी को मनाने वाली शायरी

तुझे खबर भी है इसकी ओ रूठने वाले,
तुम्हारा प्यार ही मेरा कीमती खजाना था !
निकला करो इधर से भी होकर कभी कभी,
आया करो हमारे भी घर पर कभी कभी,
माना कि रूठ जाना यूँ आदत है आप की,
लगते मगर हैं अच्छे ये तेवर कभी कभी !

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से,
तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले,
कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से !

रूठी पत्नी के लिए शायरी

तू जो रूठ्ने लगा है दिल टूटने लगा है
अब सब्र का भी दामन मुझसे छूटने लगा है !
कब तक रह पाओगे आखिर यूँ दूर हमसे,
मिलना पड़ेगा कभी न कभी ज़रूर हमसे,
नज़रें चुराने वाले ये बेरुखी है कैसी,
कह दो अगर हुआ है कोई कसूर हमसे !

हो सकता है हमने आपको कभी रुला दिया,
आपने तो दुनिया के कहने पे हमें भुला दिया,
हम तो वैसे भी अकेले थे इस दुनिया में,
क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया !

सारी उम्र करते रहे इंतज़ार तेरे रुठने का
कभी तो मौका दिया होता तूने मनाने का !

Manane Wali Shayari in Hindi

गलती एक करी थी उसने जो हमने सची मानी थी,
हमने जाने को कहा और उसने रुठने की ठानी थी़ !
धड़कन बनके जो दिल में समा गए हैं,
हर एक पल उनकी याद में बिताते हैं,
आंसू निकल आये जब वो याद आ गए,
जान निकल जाती है जब वो रूठ जाते हैं !
इस कदर हम यार को मनाने निकले उसकी
चाहत के हम दिवाने निकले,
जब भी उसे दिल का हाल बताना चाहा उसके
होठों से वक़्त न होने के बहाने निकले !
तेरे आखो से एक आंसू गिरता हैं
तो इस दिल को दर्द होता हैं
कही तुझे दर्द न हो
तेरे दर्द की दुआ भी ये दिल मांग लेता हैं !

प्रेमिका को मानाने की शायरी

उम्मीद करते है की आपको हमारे द्वारा ऊपर दी गई शायरी संग्रह पसंद आया होगा, लेकिन अगर आपको ऊपर कोई भी शायरी पसंद नही आई है और आपकी खोज ज़ारी है तो आपको चिंता करने की जरूरत नही है, क्यूंकि नीचे हम आपको रूठे हुए दोस्त को मनाने के लिए शायरी, Ruthe Pyar Ko Manane Ki Shayari, नाराजगी दूर करने वाली शायरी, मुझे माफ कर देना शायरी, प्यार को मनाने वाली शायरी, बीवी को मनाने वाली शायरी, Husband Ko Manane Ke Liye Shayari, रूठी पत्नी के लिए शायरी,

रूठे हुए को मनाने वाली शायरी आदि के साथ साथ आप यहाँ से अपनी मोहब्बत को मानाने की शायरी, रूठे माँ/बाप को मानाने की शायरी, Naraz Ko Manane Ki Shayari, प्रेमी को मानाने की शायरी, Lovers Ko Manane Ki Shayari, प्रेमिका को मानाने वाली शायरी, मनाने वाली शायरी इमेज आदि का बेहतरीन संग्रह पेश किया है उम्मीद करते है यह तो आपको जरूर पसंद आएगा |

रूठे प्यार को मनाने वाली शायरी - Ruthe Pyar Ko Manane Ki Shayari in Hindi

तुझे खबर भी है इसकी ओ रूठने वाले,
तुम्हारा प्यार ही मेरा कीमती खजाना था !
नाराज़गी नहीं है कोई मै किससे
शिकायत करूँ,
ये रूठने मनाने
की रस्म तो अपनों में हुआ करती है !
ज़माने से रुठने की जरूरत ही क्यों हो
जब मेरे अपने ही मेरे बने रकीब हो !

रूठे पति को मानाने की शायरी

रूठनें का लुत्फ़ आया ही नहीं,
आप पहले ही मनाने आ गए !
गुलाब से भी कोमल तेरा ये जिस्म
ये झील के तरह नी ले आँखें,
ख़ूबसूरती की मूरत हैं तू
फिर क्यों दुनिया से डरती हैं तू !
ग़र कटती हें उम्र तुम्हे मनाने मेँ,
तो कट जाने दो,
वैसे भी बिन तुम्हारे जिंन्दगी भी कंहा जिंदगी हें !
इम्तिहान किस चीज़ का ले रहे हो तुम हमसे
कितना दर्द दिया तुमने मुझे खामोशी से
एक बार बात करो हमसे
बहुत कुछ कहना बाकी हैं तुमसे !

रूठने मनाने की शायरी

रूठने-मनाने का,
सिलसिला कुछ यू हुआ
मान गया था मगर,
फिर रूठने का दिल हुआ !
नाकाम थीं मेरी सब कोशिशें उस को मनाने की
पता नहीं कहां से सीखी जालिम ने अदाएं रूठ जाने की !
हर घड़ी का ये बिगड़ना नहीं
अच्छा ऐ जान…
रूठने का भी कोई वक़्त मुक़र्रर
हो जाए !
कितनी बातें, जो आती आधी रात कहने को तुम्हे,
उन् ख्वाबो में जिनमे तू करती बात,
मुझे मनाने की कभी ना छोड़ के जाने की !

अपनी मोहब्बत को मानाने की शायरी

मुद्दतों बाद आज फिर परेशान हुआ है दिल,
जाने किस हाल में होगा मुझसे रूठने वाला !
आज खुद को भुलाने को जी कर रहा है,
बेवजह रूठ जाने को जी कर रहा है,
तुम्हे वक़्त शायद मिले न मिले,
आज खुद को मनाने को जी कर रहा है !
तुम हँसते हो मुझे हँसाने के लिए,
Tum रोते हो तो मुझे रुलाने के लिए,
तुम एक बार रूठ कर तो देखो,
मर जायेंगे तुम्हें मनाने के लिए !
दिल्लगी तक तो ठीक था
लेकिन ये ठीक नहीं दूर रह कर कहती हैं
क्या मैं तुम्हारे पास नहीं !

रूठे प्यार को मनाने के उपाय एवं शायरी

नाराज क्यूँ होते हो किस बात पे हो रूठे,
अच्छा चलो ये माना तुम सच्चे हम ही झूठे,
कब तक छुपाओगे तुम हमसे हो प्यार करते,
गुस्से का है बहाना दिल में हो हम पे मरते !

रूठे प्यार को मनाने वाली शायरी - Ruthe Pyar Ko Manane Ki Shayari in Hindi

जब तुम रूठ जाते हो,
तो और भी हसीन लगते हो,
यही सोचकर तुम्हे मनाने का मन नही करता !
हमसे कोई खता हो जाये तो माफ़ करना,
हम याद न कर पाएं तो माफ़ करना,
दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं,
पर ये दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना !

प्रेमी को मानाने के लिए शायरी

रूठे प्यार को मनाने वाली शायरी - Ruthe Pyar Ko Manane Ki Shayari in Hindi

तुम तरकीब निकालते हो दिल जलाने की,
हम तरकीब निकालते है तुम्हे मनाने की !
रूठ जाओ कितना पर मना लेंगे,
दूर जाओ कितना भी बुला लेंगे,
दिल आखिर दिल है कोई सागर की रेत तो नहीं,
जो लिख के नाम आपका मिटा देंगे !
बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से,
तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले,
कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से !
बिन बात के ही रूठने की आदत है,
किसी अपने की चाहत पाने की चाहत है,
आप खुश रहें, मेरा क्या है,
में तो आईना हूँ मुझे टूटने की आदत है !
इम्तिहान किस चीज़ का ले रहे हो तुम हमसे
कितना दर्द दिया तुमने मुझे खामोशी से
एक बार बात करो हमसे
बहुत कुछ कहना बाकी हैं तुमसे

रूठे दोस्त के लिए शायरी

रूठने का हक़ है तुझे,
वजह बताया कर
ख़फ़ा होना गलत नही, तू खता बताया कर !
तरीके तो कई है,
तुम्हे अपने पास रखने के
पर मजा तो तब है जब तुम हमें मनाने का हुनर जानो !
नया नया शौक उन्हें रूठने का लगता है,
खुद ही भूल जाते हैं रूठे थे किस बात पर !

बाबू को मानाने के लिए शायरी वीडियो

Read More :

Leave a Comment